Khabar Utterpradesh

Khabar Utterpradesh

अनुराग कश्यप की जिद की वजह से बर्बाद हो सकता था

1 min read

बर्थडे बॉय अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap) की फिल्में एक से बढ़कर एक हैं. लीक से हटकर सिनेमा परोसने के लिए मशहूर अनुराग कश्यप काम के मामले में ऐसे हैं कि एक बार जिद पर अड़ जाएं तो फिर किसी की भी नहीं सुनते. ऐसी ही उनकी जिद का किस्सा ‘Dev D’ के गाने ‘तौबा तेरा जलवा, तौबा तेरा प्यार’ से जुड़ा हुआ है.

देव डी का ‘इमोशनल अत्याचार…’ गाना जब बनाया जा रहा था तो इसे बनाने वाले बेहद डरे हुए थे. उनका डर भी लाजमी था क्योंकि इसे गाने वालों में से एक तो सिंगर बनने की ख्वाहिश रखता था. जी हां अपनी तरह के इस बेहतरीन गाने को सुनकर आपको हमेशा यही लगता होगा कि ये तो किसी बैंड वाले ने गाया है. यहां तक गूगल पर भी कई जगह ये जानकारी मिलती है कि इसे बैंड वाले रंगीला और रसीला ने गाया है. लेकिन इसकी असलियत कुछ और ही है.


इस गाने की सच्चाई ये है कि इसे इकतारा, तेरा रास्ता छोड़ूं ना, मनमर्जियां जैसे बेहतरीन गाने देने वाले अमिताभ भट्टाचार्या ने अमित त्रिवेदी के साथ मिलकर गाया है. ये सब इस फिल्म के डायरेक्टर अनुराग कश्यप की वजह से हुआ. इसकी भी एक दिलचस्प कहानी है.अमित त्रिवेदी ने इस किस्से का खुलासा किया था.

उन्होंने बताया, अनुराग ये गाना दो कव्वाली सिंगर्स से करवाना चाहते थे. लेकिन जब हमने उन्हें अपनी आवाज में इसका ट्रायल सुनाया तो वह इतने इप्रेस हो गए कि यह गाना हमें गाने को कह दिया. उन्होंने बताया, अनुराग को यह गाना इसी अंदाज में पसंद आ गया. लेकिन अमिताभ भट्टाचार्या काफी डरे हुए थे. क्योंकि वह अपनी असली आवाज में नहीं गा रहे थे. वह सिंगर बनना चाहते थे. उन्हें लग रहा था कि अगर उनका डेब्यू ऐसा होगा तो उन्हें आगे काम नहीं मिलेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *