गणिनी आर्यिका विज्ञाश्री माताजी के 25 वें रजत दीक्षा जयंती महोत्सव के समापन समारोह के अवसर पर अजमेर रोड़ बड़ के बालाजी स्थित सुपार्श्व गार्डन के चन्द्रप्रभ दिगम्बर जैन मंदिर चन्द्रपुरी के प्रांगण पर महोत्सव के दूसरे दिन मुख्य आयोजन की मंगल शुरुवात श्रीजी के स्वर्ण एवं रजत कलशों से कलशाभिषेक कर प्रारम्भ हुए। इस दौरान आर्यिका विज्ञाश्री माताजी के मुखारविंद भव्य शांतिधारा की गई। इस दौरान सभी प्रमुख इंद्र श्रीपाल, भागचंद चूड़ीवाला, नरेंद्र पाटनी, अनिल जैन धुंवा वाले, नरेंद्र पाटनी, भागचंद जैन, संतोष कासलीवाल, सतीश कासलीवाल सहित सभी 21 इन्द्रो सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने कलशाभिषेक कर महोत्सव का शुभारंभ किया। इस दौरान समाजसेवी धर्मचंद पहाड़िया ने पंडाल उदघाटन, मुख्य परामर्शक महेश काला एवं ध्वजारोहण श्रीपाल, भागचंद चूड़ीवाला द्वारा किया गया और महोत्सव अध्यक्ष सुभाष पाटनी, कार्याध्यक्ष हेमन्त सौगानी, स्वागताध्यक्ष अनिल जैन बनेठा, महामंत्री अशोक जैन नेता, मंत्री जितेंद्र मोहन जैन आदि ने सभी श्रेष्ठियों और पुण्यार्जक परिवारों का माला, साफा पहनाकर केसर का तिलक लगाकर सम्मान किया। इसके पश्चात गणिनी आर्यिका विज्ञाश्री माताजी ससंघ सानिध्य में सभी ग्रहों और बाधाओं को दूर करने वाले जिन सहस्त्रनाम महाकुंभ विधान पूजन प्रारम्भ हुआ। जिसमें देशभर से बड़ी संख्या में श्रद्धालु उमड़े व पूर्व की भांति इस बार भी सबसे अधिक जोड़ो के साथ पूजन करने का रिकॉर्ड बढ के बालाजी ने बनाया। 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *